Monday, July 1, 2013

बरसात की बेहतरीन शायरी - BARASAT KI BEHATRIN SHAYRI :-


बरसात की बेहतरीन शायरी - BARASAT KI BEHATRIN SHAYRI :-


तुम आँखों की बरसात बचाए हुए रखना ,
कुछ लोग अभी आग लगाना नहीं भूले।
                            -- कतील शिफ़ाई

No comments:

Post a Comment

Post a Comment